- Advertisment -
HomeLatest News and Updatesअब जवान बूढ़ा होगा और बूढ़ा जवान होगा। अद्भुत अनुभव सफल ...

अब जवान बूढ़ा होगा और बूढ़ा जवान होगा। अद्भुत अनुभव सफल NS News

- Advertisment -
- Advertisement -

from NS News,

वेब डेस्क: वैज्ञानिकों का बूढ़े जानवरों को फिर से जीवंत करने का प्रयोग सफल रहा है, उनका दावा है कि यह प्रयोग इंसानों पर भी लागू किया जा सकता है।

विवरण के अनुसार, अमेरिकी विशेषज्ञों ने वैज्ञानिक पत्रिका ‘सेल’ में चूहों पर एक प्रयोग किया, जो आश्चर्यजनक रूप से सफल रहा। वैज्ञानिकों ने एपिजेनेटिक्स, डीएनए और जीन परिवर्तनों का उपयोग करके पुराने चूहों का कायाकल्प करने और युवा चूहों को बूढ़ा बनाने में आश्चर्यजनक रूप से सफलता प्राप्त की है।

इस आश्चर्यजनक प्रयोग के बाद, विशेषज्ञों ने दावा किया कि उनके उपचार और प्रयोगों से अंधे चूहों की दृष्टि बहाल हो गई, जबकि उम्रदराज चूहों के आंतरिक अंग भी सक्रिय और कायाकल्प हो गए।

वैज्ञानिकों के मुताबिक, प्रयोग के दौरान उन्होंने न केवल युवा चूहों के आकार की जांच की, बल्कि उनके मस्तिष्क और आंतरिक अंगों की भी जांच की, जो युवा चूहों की तरह बन गए।

विशेषज्ञों का दावा है कि मानव जीन (कोशिकाओं) में एक विशिष्ट रसायन ‘एपिजेनोम’ की खराबी लोगों को बूढ़ा बना देती है और बीमारियों की ओर ले जाती है, और उक्त रसायन में सुधार करके उम्र बढ़ने को धीमा किया जा सकता है, एपिजेनेटिक नहीं। यानी मानव जीवन को डीएनए और सेल संशोधन और उपचार द्वारा रोका, बदला और बढ़ाया जा सकता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि इलाज के बताए गए तरीके के तहत डीएनए और जीन में बदलाव कर बूढ़े लोगों को जवान बनाया जा सकता है, वहीं बच्चों को बूढ़ा और बड़ों को जवान बनाया जा सकता है.

गौरतलब हो कि उक्त टीम में शामिल वैज्ञानिक अपने विवादित शोध के लिए जाने जाते हैं और उक्त वैज्ञानिक कई वर्षों से यह दावा करते आ रहे हैं कि बुढ़ापा जवानी में बदला जा सकता है. उनका दावा है कि मानव डीएनए और कोशिकाओं में विशेष रसायनों को बदलकर या सुधार कर बच्चों को जवान, युवाओं को कमजोर और बूढ़ों को जवान बनाया जा सकता है।

- Advertisement -
Latest News & Updates
- Advertisment -

Today Random News & Updates